अमेरिका और चीन में युद्ध हुआ तो कौन जीतेगा

अमेरिका और चीन में युद्ध हुआ तो कौन जीतेगा अमेरिका और चीन में से कौन ज्यादा शक्तिशाली है किसके पास कितने परमाणु हथियार हैं ये सब जानकारी आपको इस पोस्ट आंकड़े सहित जानने को मिलेगा इसलिए पोस्ट को अंत तक पढ़ें 

 

ग्लोबल फायर पॉवर इंडेक्स की रिपोर्ट के आंकड़ों से दोनों देशों में कौन ताकतवर है नीचे पढ़ें 

 

 

अमेरिका के पास कितने परमाणु हथियार हैं

 

सबसे पहले बात करते हैं परमाणु हथियारों को तो इस मामले में अमेरिका चीन से बहुत आगे हैं । अमेरिका के पास 6200 के लगभग परमाणु हथियार हैं जबकि चीन के पास केवल 290 हथियार ही हैं
वहीं अमेरिका के पास कुल 13267 और क्राफ्ट हैं और चीन के पास इनकी संख्या 3210 है ।
चीन के पास टैंक की संख्या 3500 है जबकि अमेरिका के पास टैंक की संख्या 6289 है लेकिन टैंक की संख्या के मामले में रूस सबसे पहले नंबर पर है रूस के पास 12950 टैंक हैं ।

अमेरिका और चीन की तुलना

 


अमेरिका के पास 2085 फाइटर एयरक्राफ्ट हैं जबकि चीन के पास 1232 इनकी संख्या हैं । अटेक हेलीकॉप्टर की संख्या चीन के पास 281 है और अमेरिका 967 अटैक हेलीकॉप्टर के साथ इस मामले में भी चीन से आगे ही है ।
एयरक्राफ्ट कैरियर अमेरिका के पास 20 हैं जबकि चीन के पास सिर्फ 2 ही कैरियर हैं ।


चीन के पास कितने सैनिक हैं 

चीन केवल एक ही मामले में चीन से आगे है और वो है सैनिको की संख्या जी हां चीन के पास दुनिया में सबसे ज्यादा युद्ध के सैनिक हैं जिसकी संख्या करीब 22 लाख है और अमेरिका के पास 14 लाख सैनिक हैं । लेकिन आजकल दुनिया में बहुत टेक्नोलॉजी आ चुकी हैं अब युद्ध सैनिक नहीं बल्कि एयरक्राफ्ट और परमाणु हथियरों से लड़ा जाता है

इन सभी आंकड़ों को देखते हुए लग रहा है कि चीन के आंकड़े अमेरिका से बहुत कम है और चीन का जीडीपी भी अमेरिका से बहुत कम है लेकिन फिर भी चीन की सनक को मिटाने के लिए और उसका घमंड तोड़ने के लिए अमेरिका ने दुनिया की सबसे तेज मिशाइल पर काम शुरू कर दिया है 
राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खुद हस्ताक्षर करके इस प्रोजेक्ट को मंजूरी दी है और कहा है कि ये मिशाइल आवाज की गति से भी 17 गुना अधिक तेजी से वार करने में सक्षम होगी और दुनिया के किसी भी देश को निशाना बना सकेगी ।

 



 

इस मिसाइल का नाम SUPPER DUPPER MISSILE रखा गया है और इस के साथ ही अमेरिका मिसाइल के मामले में सबसे ऊपर आ जाएगा अभी तक रूस और चीन अमेरिका के बराबर ही हैं ।
एक तरफ सम्पूर्ण विश्व कोरोना वायरस से जूझ रहा है, लाखों लोगों की जान जा चुकी है और दुनिया की बड़ी से बड़ी अर्थव्यवस्था भी ठप हो चुकी हैं , दुनिया में करोड़ों लोगों का रोजगार छिन गया है जबकि लोग भुखमरी का भी शिकार हो रहे हैं लेकिन एक देश ऐसा है जिसको ये सब बातों से कोई मतलब नहीं है उसका नाम है चीन  ।

जी हां चीन को ऐसी महामारी के समय में भी दुनिया को परेशान कर रहा है और विश्व में अशांति बांटने का काम कर रहा है । चीन इस महामारी का फायदा उठाकर महाशक्ति अमेरिका को बर्बाद करने के सपने देख रहा है और खुद दुनिया की सबसे बड़ी महाशक्ति बनना चाहता है । लेकिन चीन को ये पता नहीं है कि अति का अंत जरूर होता है और यही अब चीन का हाल होने वाला है ।

दोनों देशों में तनाव का कारण बना कोरोना वायरस 


अमेरिका ये दावा कर रहा है कि कोरोना वायरस चीन ने खुद लैब में बनाया है और उसने इस वायरस को अमेरिका के खिलाफ एक हथियार की तरह इस्तेमाल करके सीधा युद्ध की चुनौती दी है । अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चीन और विश्व स्वास्थ्य संगठन WHO से बहुत नाराज़ हैं और उन्होंने WHO को दी जाने वाली फंडिंग पर भी रोक लगाने की धमकी दी है साथ ही चीन और कोरोना की जांच कमेटी बिठाने की बात कही है ।

अमेरिका और चीन में युद्ध हुआ तो कौन जीतेगा


दूसरा कारण है चीन की गलत नीतियां जिनसे वो दुनिया पर अपना कब्जा करना चाह रहा है ।

 


अमेरिका और चीन में तनाव  की स्थिति का एक कारण तो कोरोना वायरस है और दूसरा कारण ये है कि चीन ताइवान पर हमला करने की बात कर रहा है जिसमें अमेरिका ताइवान के साथ है और ताइवान के रास्ते एक तरह से चीन ने अमेरिका को ही धमकी दी है और वहीं एक और दक्षिण चीन सागर में भी दोनों देशों में विवाद की स्थिति बनी हुई है

पोस्ट आपको कैसी लगी और आपकी राय में कौन ताकतवर है कोमेंट करके जरूर बताएं और इस जानकारी को अन्य लोगों के साथ शेयर जरुर करें धन्यवाद

जय हिन्द

2 thoughts on “अमेरिका और चीन में युद्ध हुआ तो कौन जीतेगा”

Leave a Comment

%d bloggers like this: