जयगढ़ किले का हजारों टन सोना कहां गया ? क्या सच में गांधी ने आपातकाल में जयगढ़ का खजाना लूटा था – jaigarh fort Jaipur and indira gandhi emergency

jaigarh fort Jaipur and indira gandhi
Getty images 

जयगढ़ किले का हजारों टन सोना कहां गया ? क्या सच में गांधी ने आपातकाल में जयगढ़ का खजाना लूटा था ।

आज पूरे देश में इंदिरा गांधी के आपतकाल की चर्चा है । आपतकाल में देश को बहुत मुसीबतों का सामना करना पड़ा लेकिन इसमें कुछ अनकही कहानियां भी छुपी हुई हैं ।

25 june 1975 से 21 मार्च 1977 राष्ट्रीय आपातकाल 

जब पूरे देश में इंदिरा गांधी ने  राष्ट्रीय आपतकाल लगा दिया था तब देश में एक ऐसी घटना भी हुई जिसका बहुत कम लोगों को पता है । 

जयगढ़ का खजाना और इंदिरा गांधी 

यह बात है जयपुर के जयगढ़ किले के खजाने की जिसे इंदिरा गांधी ने आपातकाल के दौरान खुद वाया था । सबसे पहले इंदिरा गांधी ने महारानी गायत्री देवी और उनके बेटे भवानी सिंह ब्रिगेडियर को जेल में डाल दिया था उसके बाद खजाने की खुदाई शुरू हुई और यह खुदाई लगभग 3 महीने तक चली थी 
jaigarh fort Jaipur and indira gandhi
लेकिन जब खुदाई का काम पूरा हो गया और लोगों ने इंदिरा से लोगों ने  पूछा इसमें क्या मिला तो इंदिरा गांधी ने कहा या मैं यहां पर कोई खजाना नहीं मिला और केवल 230 किलो सोना मिलने की बात कही अब आप ही बताओ कि इतना बड़ा खजाना और सोना मिला 230 किलो ? 
तो क्या यह बात आपको सच लगती है ? लोगों का यह मानना है की खुदाई के बाद सेना के बहुत सारे ट्रकों में भरकर सोने को दिल्ली ले जाया गया था और उस दौरान जयपुर दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग को सील करके रखा गया था यानी कि आम लोगों के लिए आवाजाही बिल्कुल बंद थी वहां से केवल सेना के ट्रक जा सकते थे ।

जयगढ़ के खजाने से जुड़े कुछ सवाल :

पहला सवाल ये उठता है कि जब इंदिरा गांधी को वहां पर  सोना मिला ही नहीं तो गायत्री देवी और उनके बेटे को जेल में क्यों डाला गया क्या गायत्री देवी ने उनको मना कर दिया था ?
 
दूसरा सवाल ये है कि आज तक इन बातों की कोई आधिकारिक तौर पर सबूत के साथ क्यों नहीं की गई लोगों के सामने इनके सबूत  क्यों नहीं आए ?
अगर किसी राजघराने को सरकारी खजाने में शामिल करना था तो क्या उसके लिए आपातकाल सही समय था ।
आपातकाल में किसी राष्ट्रीय राजघराने को सरकारी खजाने में शामिल नहीं किया जा सकता है ।
क्या ये इंदिरा गांधी की नियत पर सवाल नहीं करता और अगर खजाना मिला तो खजाना कहां गया  इसके दस्तावेज कहां है इसके बारे में सबूत कहां है ?
आज तक सवाल ही है आज तक ना कोई जांच हुई ना किसी मीडिया संस्थान इन बातों को ध्यान दिया हालांकि आपको बता दूं कि उस समय मीडिया वालों को भी जेल में डाल दिया गया था तो सवाल करता कौन लेकिन अब तो मीडिया भी आजाद है ना ?  
मैं पूरे देश से एक बात कहना चाहता हूं सबसे पहले तो आप इस पोस्ट को अपने लोगों के साथ अपने दोस्तों के साथ शेयर करें तमाम सोशल मीडिया पर शेयर करें अपने व्हाट्सएप ग्रुप में शेयर करें और कांग्रेस पार्टी से जवाब मांगो।

आखिर जयगढ़ का सोना कहां गया ? 

जयगढ़ के खजाने को किसने लूटा ? 

क्या इंदिरा गांधी ने आपतकाल में सोना लूटा था ?

जयगढ़ किले का खजाना कहां गया ?

और हां एक बात 

जब यह परिवार पूरे देश को लूट कर खा गया, 70 सालों में इन लोगों ने देश को कबाड़ा कर दिया, देश को गरीबी ,और घोटालों के अलावा कुछ दिया ही नहीं तो फिर आप लोग इन लोग को वोट क्यों देते हो ? 
एक सवाल मोदी सरकार से भी वहीं कांग्रेस पार्टी से देश के पैसे का हिसाब कब मांगा जाएगा और इनको जेल कब होगी ।
मोदी जी आप ही कहते थे ना कि देश को लूटने वालों को छोडूंगा नहीं तो आप अपना यह वादा कब पूरा करोगे कब
देश के गरीब जनता के खून पसीने से कमाए हुए पैसे का इन भ्रष्ट लोगों से आप हिसाब लोगे? और हां आप अपने हर वादे को पूरा करते हो इसलिए मैं आपसे कह रहा हूं कि आप अपना यह वादा भी पूरा करो
पोस्ट लिखने के पीछे मेरा केवल इतना मकसद है कि कांग्रेस पार्टी घोटालों का सब देश के सामने आए लोग जागरूक बने अगर आप चाहते हैं कि ऐसी पोस्ट में डालता हूं तो मेरे साथ जुड़े  आप चाहो तो इस पोस्ट को ट्विटर पर शेयर कर सकते हो जिससे बड़े बड़े लोगो को ये बात पर चले ।
जय हिन्द 
जय भारत 🇮🇳

Leave a Comment

%d bloggers like this: