4 दिन से टॉयलेट नहीं गया, नहाया भी नहीं: जेल में केवल पार्ले-जी खा रहा आर्यन खान, तबीयत को लेकर कर्मचारी चिंतित

Photo - Mumbai mirror

Aryan Khan drugs case करोड़ों के आलीशान बंगले में रहने वाला आर्यन खान अब जेल की हवा खा रहा है आखिर परेशानी तो होगी ही । ड्रग्स और जहाज पर रेव पार्टी मामले में NCB के हत्थे चढ़े आर्यन खानNCB के हत्थे चढ़े आर्यन खान पिछले 5 दिनों से जेल में हैं। खबरें ऐसी भी आ रही हैं कि आर्यन खान ने सिर्फ बिस्कुट और पानी से अपना गुजारा कर रखा है और वो पिछले 4 दिन से टॉयलेट भी नही गया है

 

आर्यन खान ने नहीं खाया खाना

‘दैनिक भास्कर’(according to Dainik Bhaskar) ने जेल सूत्रों के हवाले से खबर प्रकाशित की है कि खबर में बताया गया है की आर्यन खान (Aryan Khan) पिछले 4 दिन से खुद के खरीदे हुए पार्ले जी बिस्कुट खाकर जिंदा हैं , आर्यन ने ठीक से पिछले 4 दिनों से उन्होंने टॉयलेट तक नहीं किया है। जेल के अधिकारी उसको बार बार खाने के लिए पूछते हैं लेकिन वो भूख नहीं लगने का बोलकर खाना नहीं खा रहा है

 

मंगलवार (12 अक्टूबर, 2021) की सुबह आमद वार्ड के कॉन्स्टेबल ने आर्यन खान को बिस्किट लाकर दी थी। उसने जेल में आने से पहले ही एक दर्जन पानी की बोतले ले ली थी , लेकिन अब केवल 3 बोतल ही आर्यन के पास बची हैं  । जेल के नियमानुसार एक व्यक्ति केवल 2500 रुपए ही जेल के अंदर ले जा सकता है।

इन पैसों को जेल के खाते में जमा कराकर वहा से कूपन लेना पड़ता है फिर जाकर केंटीन से समान मिलता है जिसमे आप नमकीन , बिस्कुट, चिप्स, साबुन , टूथपेस्ट, तेल, आदि जरूरी चीज जो खाने के काम आती हों या डेली लाइफ में काम आती हैं उनको खरीद सकते हैं

 

जेल के कर्मचारी इस बात से चिंता में हैं की कहीं उसकी तबीयत न खराब हो जाए , आर्यन के घर से कुछ कपड़े और ओढ़ने की चादर भी आई है और जेल से एक कंबल भी मिला हुआ है । अरबाज और आर्यन खान एक ही में हैं और आर्यन ने 4 दिन से नहाया भी नहीं हैं

 

वैसे ये सब कर्मों का फल है बुरा काम का बुरा नतीजा चाहे वो कोई भी क्यो न हो कानून सबके लिए एक ही है ।

 

 

View Comments (2)

  • In doing any crime, you have to face the Consequences despite being rich or poor, family background, race, color, gender etc. SRKs son has to go through all law processes. When caught in crime, you are just An ordinary person.

  • Despite being actors son, no one is above law. One will be treated the same as other prisoners. Let justice prevail