Sameer wankhede नवाब मलिक को वानखेडे दिया करारा जवाब कहा मेरी वर्दी उतारना इतना आसान नहीं है

Sameer wankhede ने कहा है कि उन्हें वर्दी भारत के राष्ट्रपति से मिली है और अगर इसे उतरवाना किसी के बस की बात नहीं है

महाराष्ट्र सरकार में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री व NCP नेता नवाब मलिक आजकल NCB के ज़ोनल डाइरेक्टर Sameer wankhede के बारे मे बहुत गंभीर आरोप लगा रहे हैं। नवाब मलिक ने पहले तो ये धमकी दी कि एक साल के अंदर समीर वानखेडे की वर्दी उतरवा दूंगा और ये भी कहा कि जब तक वानखेडे को जेल मे नहीं डाल दूंगा तब तक चैन नहीं लूँगा यानि कि ये तो एक ऑन ड्यूटी ऑफिसर को धमकी ही हुई न ।

 

Sameer wankhede vs nawab malik

लेकिन अब नवाब मलिक ने एक और नया ढोंग किया है उनका कहना है कि समीर वानखेडे का असली नाम समीर दाऊद वानखेडे हैं और उनके पिताजी का नाम दाऊद वानखेडे है और एक ट्वीट करते हुए कहा कि यहाँ से वानखेडे का फर्जीवाड़ा हुआ था जिस ट्वीट मे मलिक ने वानखेडे का जन्म प्रमाणपत्र का फोटो भी साझा किया है । नवाब मलिक के इन आरोपो का वानखेडे लगातार खंडन करते आ रहे हैं और दैनिक भास्कर को दिये इंटरव्यू में वानखेडे ने कई बातों को स्पष्ट किया है

 

वर्दी उतरवाने पर क्या बोले वानखेडे

वे बड़े नेता हैं और मैं सामान्य सरकारी नौकर हूं। मुझे देश के राष्ट्रपति से वर्दी मिली है। किसी के कुछ बोलने से वह नहीं जा सकती। मैं ड्रग्स के खिलाफ सफाई अभियान चला रहा हूं। क्या इसलिए मेरी वर्दी उतारी जाएगी? मेरा राजनीति से कोई संबंध नहीं है। मैं अपना काम कर रहा हूं, मुझे जो टास्क दिया गया है, उसे पूरा कर रहा हूं। जिन्हें मेरी वर्दी उतारनी है, उन्हें बधाई देना चाहता हूं। देखता हूं वो क्या करते हैं।

 

दुबई और मालदीव्स जाकर फिरौती लेने के आरोपों पर समीर वानखेड़े ने कहा कि वो कभी दुबई गए ही नहीं। बकौल NCB जोनल डायरेक्टर, वो वरिष्ठ अधिकारियों से अनुमति लेकर परिवार के साथ मालदीव गए ज़रूर थे, लेकिन खुद के पैसों से। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन में उनके विदेश जाने की बात जो कही जा रही है, ये सही नहीं है। उन्होंने कहा कि आरोप लगाने वाले सोचते हैं कि अधिकारी है तो भ्रष्ट ही होगा।

 

कार्रवाई सरकारी है, फिर आप पर व्यक्तिगत आरोप क्यों लगाए जा रहे हैं?

मैं इसका विरोध करता हूं। मेरे काम के तौर-तरीके पर सवाल उठाने की छूट है, लेकिन मेरे और मेरे परिवार पर व्यक्तिगत आरोप लगाए जा रहे हैं, यह गलत है। मैं अपने करियर में इस तरह की चीजें पहली बार देख रहा हूं। मैंने उनके रिश्तेदार पर कार्रवाई की, उसकी खुन्नस निकालने के लिए मेरे परिवार पर व्यक्तिगत आरोप लगाए जा रहे हैं, यह नहीं चलेगा।