Maharana Pratap jayanti – महाराणा प्रताप ने बहलोल खान को घोड़े समेत 2 टुकड़ों में काट दिया

Maharana Pratap jayanti -

दिवेर का युद्ध हल्दीघाटी के बाद अक्टूबर 1582 में दिवेर का युद्ध हुआ। इस युद्ध में मुगल सेना की अगुवाई करने वाला अकबर का चाचा सुल्तान खां था। विजयादशमी का दिन था और महाराणा ने अपनी नई संगठित सेना को दो हिस्सों में विभाजित करके युद्ध का बिगुल फूंक दिया। एक टुकड़ी की कमान स्वयं … Read more