अभ्यास इंद्र 21 भारत और रूस के बीच 12 वां सैन्याभ्यास

प्रतीकात्मक फोटो

अभ्यास इंद्र 21 क्या है

इस अभ्यास इंद्र 21 में भारत और रूस के कुल  250 सैन्यकर्मी हिस्सा लेंगे। भारतीय सेना के दल में मैकेनाइज्ड इंफेंट्री बटालियन शामिल है। इस बटालियन को भारत के विभिन्न हिस्सों में कठिन प्रशिक्षण दिया गया है, जिसकी बदौलत बटालियन ने संयुक्ताभ्यास में हिस्सा लेने के लिये पूरी तैयारी कर ली है।

 

अभ्यास इंद्र 21 कब और कहाँ आयोजित होगा

भारत और रूस के बीच 1 से 13 अगस्त, 2021 तक 12वां संयुक्त सैन्याभ्यास इंद्र-21  रूस के वोल्गोग्राद में आयोजित होगा। अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी समूहों के खिलाफ संयुक्त कार्रवाई सम्बंधी संयुक्त राष्ट्र के फैसले के अनुपालन में दोनों देशों की सेनायें आतंक विरोधी अभ्यास करेंगी।

 

इस सैन्य अभ्यास से क्या लाभ होगा

इंद्र 21 से भारतीय और रूसी फौजों के बीच आपसी तालमेल और आपस में सहयोग करके कार्रवाई करने की क्षमता में इजाफा होगा। इस अभ्यास के तहत दोनों फौजें आपस में अपनी कुशलता साझा करेंगी। इससे भारत और रूस के बीच लंबे सौहार्दपूर्ण मैत्री सम्बंध भी मजबूत होंगे।  यह अभ्यास दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग को मजबूत करने का एक और मील का पत्थर साबित होगा।

असलियत ऐसा दिखता था टीपू सुल्तान जबकि फिल्मों और सीरियल में कुछ और ही झूठ दिखाया जाता है – history of tipu sultan

रक्षा मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी

13 दिनों तक चलने वाली यह अभ्यास दक्षिणी रूस (Southern Russia) के वोल्गोग्राड क्षेत्र में प्रुडबोई अभ्यास रेंज (Prudboi Exercise Range) में आयोजित की जाएगी. रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ए. भारत भूषण बाबू (A. Bharat Bhushan Babu) ने भारत और रूस की सेना के बीच होने वाले इस अभ्यास की जानकारी दी

 

परीक्षा संबंधी प्रश्न 

प्रश्न – किन दो देशों की सेनाओं के बीच संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘ इंद्र 2021 ’ आयोजित किया जाएगा?

उत्तर – भारत और रूस